जल संरक्षण तथा प्रबंधन के क्षेत्र में झारखंड के जन जागरण केन्द्र को मिला राष्ट्रीय पुरस्कार

212
1126
विशद कुमार 
जल शक्ति मंत्रालय, भारत सरकार के द्वारा द्वितीय राष्ट्रीय जल पुरस्कार कार्यक्रम का आयोजन वेबिनार के माध्यम से 11 नवम्बर, 2020 को नई दिल्ली से आयोजित किया गया। नई दिल्ली से आयोजित वेबिनार कार्यक्रम के माध्यम से देश भर के कई राज्यों के ग्रामीण विकास विभागों के प्रतिनिधि, जिले के उपायुक्त, जल के क्षेत्र से जुड़े विशेषज्ञ, जल शक्ति मंत्रालय सहित अन्य मंत्रालय के अधिकारीगण, छात्र-छात्राएं, मीडिया प्रतिनिधि सहित कई सरकारी एवं गैर सरकारी संगठनों के प्रतिनिधि ऑनलाईन जुड़े हुए थे। इस वेबिनार कार्यक्रम में मुख्य अतिथि माननीय उप राष्ट्रपति वैंकैया नायडू सहित जल शक्ति मंत्रालय भारत सरकार के माननीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत मौजूद थे।
कार्यक्रम में जल संरक्षण तथा प्रबंधन (वाटर वेरियर) के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने को लेकर हजारीबाग (झारखंड) के जन जागरण केन्द्र को राष्ट्रीय पुरस्कार में प्रथम स्थान मिला। सूचना भवन में वेबिनार से जुड़े लाईव कार्यक्रम के पश्चात जनजागरण केन्द्र के सचिव संजय कुमार सिंह ने बताया कि जन जागरण केन्द्र को जल शक्ति मंत्रालय भारत सरकार से पूर्वोत्तर राज्यों बिहार, पश्चिम बंगाल, झारखण्ड, उड़ीसा एवं छत्तीसगढ़ में जल सरंक्षण एवं प्रबंधन (वाटर वेरियर) के क्षेत्र में झारखण्ड राज्य को जन जागरण केन्द्र हजारीबाग को प्रथम पुरस्कार दिया गया। झारखण्ड राज्य के कोडरमा, हजारीबाग, धनबाद, बोकारो, रांची, खूंटी आदि जिलों गांव का पानी गांव में, खेत का पानी खेत में संरक्षित करने के निमित बेहतर कार्य किया गया। उन्होंने बताया कि इन विभिन्न जिलों में जल संरक्षण के विभिन्न अवयवों जैसे तालाब निर्माण, कुआं निर्माण, टीसीबी, बैट आदि के बेहतर कार्य माध्यम से लगभग 811 करोड़ लीटर जल संचित किया गया। जिससे भूमिगत जल में बढ़ोतरी, सिंचाई की सुविधा, पशुओं के पीने का पानी सालों भर उपलब्ध हो पाया है। वहीं मछली पालन एवं अन्य जल संबंधी कार्यों को करने के लिए बढ़ावा मिला है। यह कार्य जन जागरण केन्द्र के संस्थापन स्व रामेश्वर सिंह के मार्गदर्शन पर संभव हो पाया है। मौके पर जिला ग्रामीण विकास अभिकरण के निदेशक उमा महतो ने जन जागरण केन्द्र की पूरी टीम को जल संरक्षण तथा प्रबंधन (वाटर वेरियर) के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने को लेकर राष्ट्रीय पुरस्कार में प्रथम स्थान मिलने पर बधाई देते हुए कहा कि इस पुरस्कार के मिलने से केन्द्र ही नहीं बल्कि जिला एवं राज्य का नाम भी देशभर में रौशन हुआ है। अत: ये आगे भी इसी तरह उर्जा के साथ कार्य करते रहें।
  इस अवसर पर मनरेगा डीपीओ अनुजा राणा, तकनिकी विशेषज्ञ अंजना एक्का, अजय कुमार निदेशक जन जागरण केन्द्र, नरेश ठाकुर, भूपेन्द्र,उपाध्याय,संजय गोप, राकेश कुमार, अमित कुमार, सीताराम मेहता, विभिन्न सदस्य सहित मीडिया प्रतिनिधि मौजूद थे।
इसकी जानकारी वाटरशेड डेवलोपमेन्ट टीम के सदस्य राजेश कुमार सिंह ने दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here