प्रकृति से जुड़े रहना प्राचीन सभ्यता का परिचय – उपायुक्त

3
121

बोकारो –  उपायुक्त श्री राजेश सिंह ने विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर सभी जिला वासियों को हार्दिक शुभकामनाएं दी है। उपायुक्त ने अपने संदेश में कहा है कि प्राचीन सभ्यता का पहचान ही प्रकृति है। हमसभी प्रकृति से जुड़े हुए हैं इसलिए यह बहुत जरूरी है कि पर्यावरण संरक्षण की दिशा में सभी कोई आगे रहें। प्रकृति ही हमारी पहचान है जिसे हम सभी पौध रोपण कर बचाने में अग्रणी भूमिका निभा सकते हैं।
उपायुक्त ने सभी से अपील किया है कि सभी कोई एक एक पौधा अवश्य लगाएं ताकि पर्यावरण एवं हरियाली से माहौल को स्वस्थ रख सकें।

■ जंगल एवं पर्यावरण बचाना सभी का कर्तव्य है-

विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर अनुमंडल पदाधिकारी चास श्री शशि प्रकाश सिंह ने कहा कि जंगल एवं पर्यावरण बचाना सभी का कर्तव्य है। सभी कोई वृक्ष अवश्य लगाएं तथा पर्यावरण संरक्षण की दिशा में अपना बहुमूल्य योगदान दें।उपायुक्त श्री राजेश सिंह, उप विकास आयुक्त श्री जयकिशोर प्रसाद, निदेशक डीपीएलआर श्री पी एन मिश्रा, अनुमंडल पदाधिकारी चास श्री शशि प्रकाश सिंह, जिला योजना पदाधिकारी श्री देवेश गौतम ने उपायुक्त आवास में एक-एक फलदार वृक्ष लगाया।

■ बालू से कलाकृति रच चंदनकियारी के श्री अजय शंकर महतो ने एकता एवं स्वस्थ रहने का संदेश दिया-
विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर पर्यावरण संरक्षण का संदेश देते हुए दामोदर नदी तट पर बालू से कलाकृति रच चंदनकियारी के श्री अजय शंकर महतो ने एकता एवं स्वस्थ रहने का संदेश दिया। प्राचीन सभ्यता का बालू पर उकेरा जाना अद्भुत रहा जबकि आदिवासी समाज के लोग पारंपरिक नृत्य एवं वाद्य यंत्रों का जिस प्रकार बालू पर दिखाया गया है वह भी अद्वितीय है।

अवसर पर उपायुक्त श्री राजेश सिंह ने अपने आवास सह गोपनीय कार्यालय में फलदार पौधे लगाया । इस कार्य हेतु उप विकास आयुक्त श्री जयकिशोर प्रसाद, डीपीएलआर श्री पशुपतिनाथ मिश्रा, अनुमंडल पदाधिकारी चास श्री शशिप्रकाश सिंह सहित अन्य उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here