जनांदोलनों की प्रमुख आवाज श्री प्रकाश राय जी पर गुंडाएक्ट की कार्रवाई योगी सरकार का तानाशाही रवैया- ऐपवा

123
2642

बनारस में जनांदोलनों के नेता श्री प्रकाश राय पर योगी सरकार द्वारा गुंडाएक्ट लगाने की कार्रवाई की ऐपवा तीखी निंदा करती है


साथियों ट्रेड यूनियन लीडर का. श्री प्रकाश राय जो लंबे समय से बनारस में नौजवानों, महिलाओं और जन आंदोलनों के तमाम वाजिब सवालों और संघर्षों की सगक्त आवाज हैं । पिछले दिनों CAA और NRC के खिलाफ बनारस में हुए ऐतिहासिक आदोंलन को संगठित करने साथ ही अल्पसंख्यक समाज के साथ एकता स्थापित करने में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही है। इन्ही वजहों से सरकार ने उन्हें जेल में डाल दिया था। लेकिन जेल में भी और जेल से आजाद होने के बाद भी वह जनसंघर्षों में सक्रिय हैं। वह जनता के बड़े हिस्से के और हम सभी के प्रिय हैं।
ऐपवा योगी सरकार द्वार उनके ऊपर लगाये गए गुंडाएक्ट की कार्रवाई की तीखी निंदा करती है । यह असंवैधानिक है और योगी सरकार की तानाशाहीपूर्ण फासीवादी रवैया है। ऐपवा श्री प्रकाश जी समेत जनांदोनलनो के सभी नेताओं पर से फर्जी मुकदमे वापस लेने की अपील करती है।

स्मिता बागड़े
जिला सचिव
डॉ नूर फातिमा
जिला अध्यक्ष
कुसुम वर्मा
प्रदेश सचिव
अखिल भारतीय प्रगतिशील महिला एसोसिएशन, उत्तर प्रदेश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here