ब्राह्मणवादी-पूंजीवादी हमले के खिलाफ बहुजन दावेदारी को बुलंद करना होगा

2
328
  • विशद कुमार
किसान आंदोलन के साथ एकजुटता में शहीद जगदेव-कर्पूरी संदेश यात्रा आज 15 वें दिन भी जारी रही. भागलपुर जिला के नाथनगर प्रखंड के कौआकोली (अम्बेडकर नगर) में डॉ.अंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के बाद सभा के साथ यात्रा की शुरुआत हुई जो नूरपुर, निस्फ अम्बे, गौराचौकी, कलकलिया दरादी, तमौनी, विशणरामपुर, बेलसिरा आदि गांवों तक गई और ग्रामीणों से संवाद व सभाएं की गईं.
डॉ.अंबेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण के बाद सभा को संबोधित करते हुए बहुजन बुद्धिजीवी व प्रोफेसर डॉ.विलक्षण रविदास ने कहा कि पूंजीपति पक्षधर विनाशकारी कृषि कानून से किसान व किसानी तबाह-बर्बाद होगा. साथ ही रोटी पर भी अंबानी-अडानी का कब्जा हो जाएगा. जन वितरण प्रणाली खत्म हो जाएगी.
उन्होंने कहा कि पूंजीपतियों का मुनाफा बढ़ाने और मजदूरों को बंधुआ बना देने के लिए श्रम कानूनों को बदलकर 4 श्रम संहिता लाया गया है. कृषि कानून और श्रम कोड खासतौर पर बहुजनों के लिए फांसी का फंदा है. बहुजनों की ब्राह्मणवादी-पूंजीवादी बढ़ेगी.
उन्होंने कहा कि स्थापित राजनीतिक पार्टियों व दलित-पिछड़े राजनेताओं के भरोसे बहुजनों का हक-अधिकार नहीं बचेगा. बहुजनों को फिर से शहीद जगदेव प्रसाद और कर्पूरी ठाकुर की विरासत को बुलंद करते हुए धन, धरती व राजपाट में 90 हिस्से की लड़ाई तेज करना होगा.
सामाजिक न्याय आंदोलन (बिहार) के रामानंद पासवान और डा अंजनी ने कहा कि लॉकडाउन में जब सड़क पर मजदूर भूख-तबाही झेल रहे थे तो मुकेश अंबानी हर घंटे 90 करोड़ रूपये कमा रहा था. मोदी सरकार मुट्ठीभर सवर्णों और पूंजीपतियों के हवाले सबकुछ कर रही है. बहुजनों को चौतरफा बेदखल कर रही है. बहुजनों को एकजुटता व दावेदारी के रास्ते आगे बढ़ना होगा. यात्रा में महेश अम्बेडकर,योगेन्द्र दास,राहुल कुमार,सूरज कुमार,प्रहलाद कुमार,अर्जुन यादव सहित कई लोग शामिल थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here