सैकड़ों रोजेदारों के साथ नेशनल हाइवे पर 650 प्रवासी मज़दूरों को भी पहुंचाई राहत सामग्री

3
268

मिर्जामुराद : ईद की पूर्व संध्या पर लोक समिति मुहीम संस्था व आशा ट्रस्ट की ओर से लॉकडाउन से परेशान गरीब बुनकर, दिहाड़ी मज़दूर और जरूरतमंद मुस्लिम रोजेदारों तक लगातार राहत सामग्री पहुंचायी गयी। इस कार्यक्रम के तहत रमजान में रोजेदार गरीब मुस्लिम परिवारों के लिए खास राहत सामग्री तैयार कर वितरित की गयी।
युवांओ की टोली ने रविवार को आराजीलाइन ब्लॉक के नागेपुर,मेहदीगंज, खालिसपुर, बेनीपुर, इस्लामपुर गाँव के सैकड़ों लोगों तक यह राहत सामग्री पहुंचायी गयी। इसके अलावा मिर्जामुराद बाजार में चिलचिलाती धूप में घर वापसी कर रहे करीब 650 प्रवासीय मजदूरों को रास्ते के लिये बोतल बंद पानी व भोजन वितरित किया।
इस नेक पहल के लिए आशा ट्रस्ट ने सहयोग किया और राहत कार्य अभियान में लगे नागेपुर के दर्जनों युवां लगातार इस राहत कार्य में अपना योगदान देकर ग्रामीण क्षेत्रों में लगातार 60 दिनो से जरूरतमन्द लोगों को लगातार राहत सामग्री वितरित कर रहे है। उल्लेखनीय है कि बीते करीब आठ सप्ताह से लगातार चलने वाले इस राहत कार्य में करीब 3200 से अधिक जरूरतमंद और गरीब परिवारों और आठ हजार प्रवासी मजदूरों तक राहत सामग्री पहुंचायी जा चुकी है।

लोक समिति के संयोजक नन्दलाल मास्टर ने बताया कि संकट की घड़ी में बिना किसी भेदभाव के हर ज़रूरमंद इंसान की मदद करनी चाहिए।इसलिए हमारे राहत कार्य में रमजान के पहले दिन से ही गरीब व जरूरतमंद मुस्लिम रोजेदार भाईयो के परिवारों तक खास राहत सामग्री पहुंचायी जा रही है। जिसमें एक परिवार के लिए खजूर, चीनी, चना, पापड़, सेवई के साथ साथ दाल, चावल, आटा, नमक, तेल, सोयाबीन, आलू, प्याज, बिस्कुट व साबुन जैसी जरूरी चीजें शामिल है। मुहीम संस्था की स्वाती सिंह ने बताया कि इस राहत कार्य को आगामी समय तक जारी रखकर गरीब और जरूरतमन्द परिवारों की मदद की जाएगी।

राहत सामग्री वितरण में मुकेश प्रधान, संजय, मधुबाला,अनीता, सोनी, मंजिता, मैनबबानो, अमित, श्यामसुन्दर, नन्दलाल मास्टर, रामकिंकर, स्वाती सिंह, ज्योति गुप्ता, महेंद्र, आशा, सुनील, पंचमुखी समेत अन्य शामिल रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here