प्रदेश में शराब बंदी की माँग को लेकर सड़क पर उतरीं महिलाएं

157
736
मिर्जामुराद- उत्तर प्रदेश में पूर्ण शराब बंदी की माँग को लेकर शुक्रवार को प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र कनकपुर गाँव में सैकड़ो महिलाएं सड़क पर उतरी। लोक समिति द्वारा आयोजित कार्यक्रम में शराब बंदी को लेकर कनकपुर और आसपास  गाँव से आयी स्वयं सहायता समूह की महिलाओं ने शराब बिक्री के खिलाफ गाँव में जोरदार रैली निकाली।तख्ती बैनर लिए महिलाएं शराब पीना बंद करो, शराब बेचना बंद करो, शराब ही समाज को खोखला कर रही है आदि कई प्रकार के स्लोगन लिखे तख्ती के साथ नारा लगाते हुए गाँव का भ्रमण किया। लोगों ने शराब विरोधी नारे लगाए और प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री से यू0पी0 में पूर्ण शराब बंदी की मांग किया तथा गांव से लेकर शहर तक हर सार्वजनिक स्थानों पर महिलाओं के लिये महिला शौचालय की ब्यवस्था ,महिलाओं को निःशुल्क दवा की ब्यवस्था की माँग किया।

रैली निकाल कर प्रदेश में शराब बिक्री पर पूर्ण प्रतिबन्ध लगाने की मांग किया

 रैली के दौरान सभा में महिला समूह की संयोजिका अनीता पटेल ने कहा कि आज समाज के ज्यादातर लोग शराब में डूब चुके है और इसका खामियाजा महिलाओं को भुगतना पड़ रहा है।महिलाओं के उपर होने वाली घरेलू हिंसा,उत्पीड़न,बलात्कार,मारपीट,आदि का सबसे बड़ा जिम्मेदार शराब है। किशोरी समूह की संयोजिका सोनी ने शराब को समाज की कुरीति बताकर इसे पूरे प्रदेश में बिहार और गुजरात की भांति बंद करने की मांग की।
लोक समिति संयोजक नन्दलाल मास्टर ने कहा कि शरीर मे जैसे कुष्ठ रोग शरीर को बेकार कर देता है। उसी प्रकार शराब समाज को भी कुष्ठ रोग की भांति खराब कर रही है। जनता के हित में इसे बंद किया जाए।
 सभा के अंत में महिलाओं ने तय किया कि गांव गाँव में शराब के खिलाफ अभियान चलाया जायेगा
धरने में मुख्य रूप से अनीता,सोनी,आशा, मुन्नी,कुमारी,लालमनी, संगीता,दुर्गावती,प्रेमा,फुलपत्ती, सुनील,शिवकुमार, आदि लोग शामिल रहे। धरने का नेतृत्व अनीता पटेल, संचालन सोनी,अध्यक्षता आशा ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here