झारखंड के कुल 32 मजदूरों को अंडमान निकोबार में बनाया बंधक

0
959
विशद कुमार
रांचीः लापुंग प्रखंड के 12 प्रवासी मजदूरों सहित झारखंड के कुल 32 मजदूरों को अंडमान निकोबार द्वीपसमूह के पोर्टब्लेयर में, वहां  M/S surndra infra.pvt Ltd . company के बिल्डर  सुरेन्द्र ने बंधक बनाकर रखा है, मजदूरों को झारखंड आने नहीं दिया जा रहा है। जबकि फिलहाल मजदूरों के पास खाने व झारखंड आने के लिए एक भी पैसा नही है।30/05/2020 को सभी मजदूरों को बिल्डर के मिलीभगत से वहां की पुलिस ने अंडमान एयरपोर्ट से खदेड़ दिया। वहां के डीएम कार्यालय में पंजीयन कराने का आवेदन भी जमा कर दिया है। झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी ओबीसी के प्रदेश महासचिव *शंकर कुमार साहु* से वहां फंसे मजदूर श्री गोले साहु ने फोन पर उक्त बातें बतायी है।  बंधक मजदूरों ने झारखंड सरकार से मदद की गुहार लगाई है ,प्रदेश महासचिव शंकर कुमार साहु ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन,श्रम मंत्री सत्यानंद भोक्ता, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रामेश्वर उरांव और रांची के उपायुक्त से व्हाट्सप संदेश के माध्यम से बंधक बने मजदूरों मदद करते हुए झारखंड लाने की मांग की है।तथा तत्काल मजदूरों को भोजन की व्यवस्था कराते हुए बिल्डर के चंगुल से बंधक मुक्त किया जाय।

शंकर कुमार साहु ने बताया है कि बंधक बने मजदूरों में
1. रमेश साहू,
2. जगेश्वर साहू,
3. गोले साहू,    
4.राजकिशोर साहु,
5. मारवाड़ी उरांव,
6 देवेंद्र साहू,
7 बिरला लोहरा,
8 डोमरा साहू,
9 मुन्ना झोरा,
10 पौदोन सोरेन,
11 सुकरा सोरेन,
12 रूबेन सोरेन,
13 राजू सोरेन,
14 किशोर सोरेन,
15 सोमा सोरेन,
16 संतोष सोरेन,
17 राजेश टेटे,
18 अमित खड़िया,
19  महिंद्र झोरा,
20 जगना झोरा,
21 कृष्णा झोरा,
22 मनोज झोरा,
23 संदीप धूम,
24 डुंगडुंग,
25  प्रमोद टेटे,
26  मुकेश वेग,
27 संजू  कीड़ों,
28 मोरेल केरकेटा,
29 अमृत टेटे,
30 जेरमिश डुंगडुंग,
31 मंगू झोरा और
32 सुधीर झोरा शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here