चूहों का शराब प्रेम

0
4664
  • एल. एस. हरदेनिया

उत्तरप्रदेश के एटा शहर से एक अत्यधिक चौकाने वाली खबर आई है. खबर यह है कि वहां के पुलिस थाने में रखी हजारों बोतल शराब चूहे पी गये. चूहों का यह शराब प्रेम अद्भुत है. वर्षों पहले मध्यप्रदेश में बड़ा राजनीतिक उलट फेर हुआ था. कांग्रेस विधायकों ने पार्टी छोड़ दी थी. उन्हें प्रसन्न रखने के लिए सब कुछ किया जा रहा था. जिन्हें शराब पीना पसंद थी उन्हें शराब पिलाई जा रही थी. भोपाल का विधायक विश्राम गृह ऐसा ही एक अड्डा था. एक दिन शराब पीने के बाद भी कुछ बोतले बच गयीं थीं. दूसरे दिन लोग उसी कमरे में एकत्र हुए जिस कमरे में बोतलें छोड़ी गईं थीं, वहां मौजूद लोगों से कहा गया कि वे बोतलें निकालें. इस पर उन्हें बताया गया कि बोतलों में रखी शराब तो चूहे पी गये. इस तरह यह कहा जा सकता है कि चूहों का शराब प्रेम बहुत पुराना है. सुना है कि सुश्री उमा भारती शीघ्र ही शराब बंदी का अभियान चलाने वाली हैं. इंसानों के साथ-साथ उन्हें चूहों के बीच भी अपना अभियान चलाना पड़ेगा!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here