उन्नाव घटना की हो उच्च स्तरीय जांच- ऐपवा

119
1017

यूपी में 17 फरवरी उन्नाव जिले के असोहा थाना के बबरुहा गांव में  तीन दलित लड़कियां खेत में संदिग्ध अवस्था में पाईं गई। जिसमें दो लड़कियों की मौत हो चुकी है और एक लड़की की हालत नाजुक हैं और वह अस्पताल में भर्ती है।
ऐपवा की राज्य सचिव कुसुम वर्मा ने मांग की है कि इस मामले की गम्भीरता से उच्च स्तरीय जांच की जाए और घायल लड़की को उच्च स्तरीय मेडिकल सुविधा तत्काल उपलब्ध कराई जाए।

हाथरस की जघन्य हत्या के बाद यह घटना उत्तर प्रदेश में  महिलाओं विशेषकर दलितों की असुरक्षित  स्थिति की ओर इशारा करती है और इसके लिए प्रदेश में काबिज योगी सरकार जिम्मेदार हैं जो लगातार संविधान को नकारते हुए प्रदेश में गैरबराबरी को बढ़ावा दे रही है।

कुसुम वर्मा
राज्य सचिव, उत्तर प्रदेश

प्रेस में जारी अपने वक्तव्य में कुसुम वर्मा ने कहा कि हाथरस की जघन्य हत्या के बाद यह घटना उत्तर प्रदेश में  महिलाओं विशेषकर दलितों की असुरक्षित  स्थिति की ओर इशारा करती है और इसके लिए प्रदेश में काबिज योगी सरकार जिम्मेदार हैं जो लगातार संविधान को नकारते हुए प्रदेश में गैरबराबरी को बढ़ावा दे रही है।  महिला हिंसा और विशेषकर दलित महिलाओं पर  हो रही हिंसा के मामले में यूपी शर्मनाक ढंग से पहले पायदान पर है। इसके लिए मुख्यमंत्री योगी पूरी तरह से जिम्मेदार हैं। योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री की कुर्सी के लायक नहीं है ऐपवा उनके इस्तीफे की मांग करती हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here