यूपी के उन्नाव जिले की जघन्य घटना पर ऐपवा  ने किया आज वारणसी में लंका बीएचयू पर प्रदर्शन

226
967

वाराणसी : यूपी में 17 फरवरी उन्नाव जिले के असोहा थाना के बबरुहा गांव में  तीन दलित लड़कियां खेत में संदिग्ध अवस्था में पाईं गई। जिसमें दो लड़कियों की मौत हो चुकी है  और एक लड़की की हालत नाजुक हैं और वह अस्पताल में भर्ती है।

उन्नाव घटना की गम्भीरता से उच्च स्तरीय जांच की जाए और घायल लड़की को उच्च स्तरीय मेडिकल सुविधा तत्काल उपलब्ध कराई जाए।

– कुसुम वर्मा
राज्य सचिव, ऐपवा

प्रेस में जारी अपने वक्तव्य में ऐपवा जिला सचिव स्मिता बागड़े ने कहा कि हाथरस की जघन्य हत्या के बाद यूपी मे एक बार फिर मनुवादी हिंसा हुई है। यूपी में महिलाएं सुरक्षित नहीं है। योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री पद पर बने रहने का कोई अधिकार नहीं है। ऐपवा उनके इस्तीफे की मांग करती है। ऐपवा जिला अध्यक्ष सुतपा गुप्ता ने कहा कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के नाम पर उत्तर प्रदेश में लगातार बेटियों की हत्याए की जा रही है और अपराधियों को खुला संरक्षण मिला हुआ है । इस अवसर पर सभा का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम में विभा वाही, सुजाता भट्टाचार्य, वर्षा सोनिया, वी के सिंह, धनशीला , विमला, ममता कमली  के अतिरिक्त आइसा से विवेक, राजेश आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here