पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में एक्शन एड और रेड ब्रिगेड संस्था ने जरूरतमंदों को दी राशन किट

4
141

वाराणसी: मिर्जामुराद/सेवापुरी, लाक डाउन के बाद से ही रेड ब्रिगेड ट्रस्ट के प्रमुख अजय पटेल ने अभी तक 4 हजार से अधिक लोगों को विगत 25 मार्च से एक्शन एड हेलो संस्था के द्वारा रेड ब्रिगेड ट्रस्ट के सहयोग से पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र के सेवापुरी विकास खंड के विभिन्न गाँवो में सैकड़ो मजदूरो व असहाय लोगो को खाद्य सामग्री का वितरण किया गया.
एक्शन एड द्वारा दी गयी राहत सामग्री में एक पखवाड़े के लिए प्रर्याप्त मात्रा में आटा, चावल, दाल, चीनी, साबुन, सेनिटाईज़र, मिल्क पाउडर, मसाले एवं सैनिटरी नैपकिन आदि वस्तुएँ सम्मलित थी.
संस्था के कोरोना योद्धाओ द्वारा सभी जगह कोरोना वायरस (कोविड 19) के बारे में लोगो को बताया गया. फिजिकल दूरी रखना, बार बार हाथो को धोना, मास्क लगाना, घऱ से बाहर न निकलना और इससे होने वाले दुष्प्रभाव के बारे में भी लोगो को जागरूक किया गया.

एक्शन एड़ इंडिया के खालिद चौधरी ने बताया की प्रशासन की स्वीकृति एवं सहयोग से उत्तर प्रदेश के कई ज़िलों में करीब 5 हज़ार से अधिक मजदूरो, विधवाओं, ज़रूरतमंद परिवार इससे लाभावन्तित हुए है. इसके साथ ही संस्था पके हुए खाने के पैकेट भी लोगो तक पहुंचा रही हैं.
इसी क्रम में वाराणसी के शहरी क्षेत्र और ग्रामीण क्षेत्रों में संस्था के सवयंसेवको द्वारा चिन्हित किये मजदूर वर्ग, विधवा महिलाओ को सैकड़ों राशन किट बांटी गयी है. सभी चिन्हित परिवारों कि लिस्ट को प्रशासन के साथ भी साझा किया गया है.
एक्शन एड लखनऊ की राज्य प्रोग्राम अधिकारी मनीषा भाटिया ने बताया की लॉक डाउन के चलते अनेक लोगो के रोज़गार बंद है. या वह कही दूसरे राज्यों में फंसे हुए है, अब उनके परिवारों के सामने खाने का संकट पैदा हो गया है. उन्ही परिवारों के लिए एक्शन एड ने यह कोशिश की है. लेकिन हमे मिलकर प्रयास करने होंगे ताकि कोई भी भूखा न रहे. भोरकला मनकईया गाँव में लाभाविन्त हीरावती वनवासी ने बताया कि लॉकडाउन के चलते उसका रोजगार ठप्प है. घऱ में भी दो तीन दिन का राशन बचा था ऐसे समय में खाने दाने की सहायता मिलना हमारे लिए ख़ुशी की सौगात है.
रेड ब्रिगेड ट्रस्ट के प्रमुख अजय पटेल ने ज़िलें के वंचित समुदायों, कस्बों, मलिन बस्तियों के अलावा प्रवासियों को राहत सामग्री अपने प्रेरको के माध्यम से वितरण कराया जा रहा है. जिससे कि चिन्हित परिवारो में से कोई भी लाभ से वंचित न रहे.
सामाजिक कार्यकर्ता राजकुमार गुप्ता ने बताया कि उक्त खाद्य सामग्री उच्च गुणवत्ता के लगभग सभी स्वदेशी उत्पादन है जो एक परिवार का लगभग 15 से बीस दिन तक पेट भर सकता है। वितरण में सहयोगी अनन्या, मंजू सिंह, अमन, अभिजीत, ओमप्रकाश, दन्ना सिंह आदि ने अदमापुर, कंससराय पुर, मनकईया, नयापुर आदि कई गाँवो में वितरण करने में अपना सहयोग दिया।
रिपोर्ट राजकुमार गुप्ता वाराणसी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here