कमला भसीन की याद में ऐपवा की श्रद्धांजलि सभा जुमेरात 9 दिसंबर को

71
208

 

वाराणसीः सुसंगत मार्क्सवादी व स्त्री उत्पीड़न के असल कारण यानि कि निजी पूँजी व मुनाफे की व्यवस्था की निशानदेही करने वाली नारीवादी चिंतक और लेखिका कमला भसीन की याद में भाकपा-माले (लिबरेशन) की आनुषंगिक संगठन ऐपवा आगामी 9 दिसंबर को श्रद्धांजलि सभा का आयोजन कर रही है। ऐपवा की प्रदेश सचिव कॉ. कुसुम वर्मा ने एक प्रेस नोट में जानकारी दी है किइस कार्यक्रम में अपराजिता शर्मा और मन्नू भंडारी की उपलब्धियों पर भी चर्चा की जाएगी।

कमला भसीन (जन्म 24 अप्रैल 1946) ( मृत्यु 25 सितम्बर 2021) एक भारतीय विकास नारीवादी कार्यकर्ता, कवयित्री, लेखिका तथा सामाजिक विज्ञानी हैं। भसीन का काम, जो कि 35 साल के आरपार फैला हुआ है, लिंगशिक्षामानवीय विकास और मीडिया पर केन्द्रित है। वे नई दिल्ली, भारत में रहती हैं। वे अपनी एनजीओ, संगत, जो कि नारीवादी साउथ एशियन नैटवर्क का हिस्सा है, और अपनी कविता “क्योंकि मैं लड़की हुँ मुझे पढ़ना है”के लिए बेहतरीन जाना जाता है। ग्रामीण और शहरी ग़रीबों को तगड़ा करने के लिए उनकी सरगर्मियों की शुरुआत 1972 में राजस्थान में सरगर्म एक स्वैछिक संगठन से हुई थी। बाद में वे युनाइटड नेशंस फ़ूड एंड एग्रीकल्चरल ऑर्गनाइज़ेशन (एफ़एओ) के एनजीओ दक्षिण एशिया प्रोगराम से जुड़ी थी जहाँ उन्होंने 27 साल तक काम किया।
★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★★
स्थान: ‘के’ बुक कैफे, लंका (V2 मॉल के पीछे) वाराणसी।
दिनांक: 9 दिसंबर, 2021
समय: शाम 4 बजे
संपर्क: 945188 9142, 9532241751,
आयोजक: अखिल भारतीय प्रगतिशील महिला एसोसिएशन (ऐपवा)

71 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here