जन अधिकार कार्यशाला में विभिन्न अधिकारों का प्रयोग करने की जानकारी दी गयी

0
1966
चौबेपुर : भन्दहां कला कैथी गाँव में सामाजिक संस्था “आशा” ट्रस्ट के तत्वावधान में  दो  दिवसीय जन अधिकार कार्यशाला शुक्रवार को आरम्भ हुयी.  इस कार्यशाला में 8 जिलों के 40 प्रतिभागी शामिल हैं .  प्रथम दिन सूचना के अधिकार, शिक्षा के अधिकार, जन हित गारंटी, खाद्य सुरक्षा क़ानून, मनरेगा आदि अधिकारों के बारे में प्रशिक्षण और साहित्य उपलब्ध कराया  गया.  इन अधिकारों के व्यापक प्रचार प्रसार और प्रयोग की आवश्कता बतायी गयी. कार्यशाला के दौरान विभिन्न जनांदोलनो से सम्बंधित लघु फिल्मो का प्रदर्शन भी किया गया.
इसके पूर्व आशा ट्रस्ट के नवनिर्मित भवन  का उदघाटन करते हुए वरिष्ठ सामाजिक कार्यकर्ता हरिराम बनवासी ने कहा की गरीब और अंतिम वर्ग के लोगों के कल्याण के लिए बने अधिकारों का प्रयोग अधिकतम किया जाना चाहिए .
जन आंदोलनों के राष्ट्रीय समन्वय के संयोजक सदस्य अरविन्द मूर्ती ने कहा  स्वयं में सचेत रह कर और समाज को जागरूक करके ही व्यवस्था में वांछित सुधार लाया जा सकता है, उन्होंने कहा कि जन विरोधी नीतियों का सांगठनिक रूप से प्रतिरोध और जन हित के अधिकारों का भरपूर उपयोग आज की आवश्यकता है.
सामाजिक कार्यकर्त्ता राजकुमार गुप्ता ने विभिन प्रकार के वेबसाईट और पोर्टल के प्रयोग से शिकायत दर्ज कराने और सूचना जाने की प्रक्रिया समझाया. कार्यक्रम संयोजक वल्लभाचार्य पाण्डेय ने युवा प्रतिभागियों का आह्वान करते हुए कहा कि वे कार्यशाला में प्राप्त जानकारी का भरपूर उपयोग समाज में लोगो को जागृत करने कि दिशा में करें।
कार्यशाला में प्रमुख रूप से दीन दयाल सिंह,  बिन्दु सिंह, जागृति राही, रामजनम भाई, डा अनूप श्रमिक, रमेश चन्द्र, प्रदीप सिंह, विनय सिंह , होशिला यादव, रामकिशोर, रेनू, आशा, उर्मिला, सुष्मिता, सानिया आदि ने विचार रखे. अमित, महेंद्र और मुस्तफा ने जनवादी गीत प्रस्तुत किये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here