जैन लॉज में रहने वाले विद्यार्थियों के लिए काल बनी लंका पुलिस

0
111

सेवा में,
श्रीमान पुलिस आयुक्त महोदय
वाराणसी कमिश्नरेट,वाराणसी।

महोदय,
निवेदन है कि हम सभी साहू शांति प्रसाद जैन छात्रावास में एक लंबे अरसे से रहकर पढ़ाई लिखाई व तैयारी के साथ-साथ कुछ लोग नौकरी पेशा करते हैं। उक्त छात्रावास निर्धन छात्रों और असहाय गरीब लोगों के लिए बनाया गया है। पिछले कुछ दिनों से कुछ संदिग्ध भू- माफिया व बदमाश किस्म के लोग थाना पुलिस लंका से मिलीभगत करके हम सभी लोगों को गैर कानूनी तरीके से छात्रावास से बेदखल करना चाहते हैं। इस संदर्भ में प्रार्थीगण मंडला आयुक्त वाराणसी को आज प्रार्थना पत्र दिया है । इसके बाद आज शाम लगभग 6:30 बजे 10-12 की संख्या में अज्ञात पुलिसकर्मी प्रार्थीगण के छात्रावास पर चढ़ाई कर मां-बहन की भद्दी-भद्दी गालियां देते हुए प्रार्थीगण के कमरों में घुसकर प्रार्थीगण को मारे-पिटे हैं। मोबाइल छीन लिया व व मारपीट कर विनय, राजेंद्र चौधरी, बृजेश, मनु,सुरेश को थाने में ले जाकर गैर-कानूनी तरीके से बंद कर उक्त अज्ञात बदमाशों के सह पर कमरा खाली कराने की धमकी देने लगे । प्रार्थीगण के यह पूछने पर कि आप लोग बिना किसी नोटिस या सूचना के किस आधार पर कमरा खाली कराने की बात कर रहे हैं,इस पर देर रात तक हमें थाने में बैठाये रहने के बाद पुलिस ने उक्त पांचों लोगों को एसीपी भेलूपुर की कार्यालय में ले गई और अभी भी वहां गैर कानूनी तरीके से पुलिस हिरासत में रखा हुआ है और छात्रावास खाली कराने हेतु जबरिया दबाव बना रही है । एसीपी भेलूपुर ने हमलोगो को जबरन डरा कर हमसे हमारा हस्ताक्षर लिया है और एक कागज में लिखवाया है कि अगले दिन हमलोग दोपहर 12 बजे छात्रावास छोड़ दें। न लिखने पर हमें फर्जी केस में जेल में सड़ाने की धमकी दी गई। इसतरह हमारे साथ ज्यादती की जा रही है। जबकि जिन लोगों के सह पर पुलिस कमरा खाली करना चाहती है वे खुद उस छात्रावास के मालिक नहीं है,

उक्त छात्रावास ‘सन्मति ज्ञान प्रचारिणी जैन समिति ‘ द्वारा गरीब छात्रों के लिए बनाकर दान किया गया है, जिसके मुख्य ट्रस्टी साहू शांति प्रसाद जैन के द्वारा गरीब छात्रों को पढ़ने के लिए 11-04-1953 ई ०को दिया गया है और वे लोग उक्त छात्रावास को बिना किसी कागजी साक्ष्य के छात्रावास के मुख्य ट्रस्टी के परिजनों को सूचित किये बिना आपसी मिलीभगत व धांधली करके अवैध तरीके से कब्जा करना चाहते हैं ।

जबकि प्रार्थीगण शांति प्रिय तरीके से लंबे समय से किराएदार के रूप में रह रहे हैं। पुलिस और उक्त भू- माफियाओं को जबरजस्ती व गैर-कानूनी तरीके से मारपीट कर कमरों में घुसकर बेदखल करने का कोई अधिकार नहीं है। इस गैरकानूनी तरीके से बेदखली कराने के प्रयास में हम लोगों के उत्पीड़न में उक्त भू-माफियाओं के साथ-साथ थाना प्रभारी लंका व क्षेत्र अधिकारी भेलूपुर की पूरी सांठगांठ व साजिश तथा मिलीभगत है।

अतः श्रीमान जी से विनम्र निवेदन है कि भू माफियाओं तथा थाना प्रभारी लंका व क्षेत्राधिकारी भेलूपुर व 10-12 अज्ञात पुलिसकर्मियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने का आदेश देने की कृपा करें।

23/09/2022

प्रार्थीगण
विनय, राजेन्द्र चौधरी, मनु, सुरेश व बृजेश।
( साहू शांतिप्रसाद जैन छात्रावास)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here