जगदेव प्रसाद के जन्म दिवस पर उनकी विरासत को आगे बढ़ाने पर चर्चा

0
1001
विशद कुमार
डॉ.अंबेडकर कल्याण छात्रावास संख्या-2 के कॉमन रूम में शहीद जगदेव प्रसाद कुशवाहा को जन्म दिवस की पूर्व संध्या पर आज याद किया गया, श्रद्धाजलि दी गई और उनके विचार व उनके वैचारिक विरासत पर चर्चा हुई।
अवसर पर उनकी विरासत को बुलंद करने के संकल्प के साथ ब्राह्मणवादी-कॉरपोरेट हमले के खिलाफ किसान आंदोलन की एकजुटता में जुझारु अभियान चलाने व आंदोलनात्मक पहलकदमी की रूपरेखा पर चर्चा हुई।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए डॉ.विलक्षण रविदास ने कहा कि शहीद जगदेव प्रसाद ने 90 प्रतिशत शोषितों के लिए धन, धरती व राजपाट में 90% हिस्सा हासिल करने की लड़ाई छेड़ी थी, वह आज भी मंजिल तक नहीं पहुंच पाई है। उनका बराबरी का समाज का सपना अधूरा है। उल्टे ब्राह्मणवादी सवर्ण वर्चस्व और पूंजी की लूट नई ऊंचाई छू रही है। संविधान व लोकतंत्र को ठिकाने लगाया जा रहा है।
सामाजिक न्याय आंदोलन (बिहार) के रिंकु यादव और रामानंद पासवान ने कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए कहा कि तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों की लड़ाई संविधान, आजादी व लोकतंत्र बचाने की लड़ाई है। जगदेव प्रसाद के वारिसों को इस लड़ाई में पूरी ताकत से उतरना होगा। ब्राह्मणवादी-कॉरपोरेट हमले के खिलाफ बहुजनों को संगठित कर लड़ाई तेज करनी होगी।
कार्यक्रम का संचालन करते हुए सामाजिक न्याय आंदोलन (बिहार) के गौतम कुमार प्रीतम और अर्जुन शर्मा ने कहा कि स्थापित राजनीतिक पार्टियों व राजनेताओं से उम्मीद नहीं बची है। हमें जगदेव प्रसाद की विरासत को लेकर आगे बढ़ना होगा। समाज को जगाने व आंदोलित करने की मुहिम तेज करनी होगी।
बहुजन स्टूडेंट्स यूनियन (बिहार) के सोनम राव और अनुपम आशीष ने कहा कि नई शिक्षा नीति-2020 शिक्षा के ब्राह्मणीकरण व कॉरपोरेटीकरण की परियोजना है। बड़े पैमाने पर सरकारी स्कूल-कॉलेज व विश्वविद्यालय बंद किए जाएंगे। बहुजन समाज शिक्षा के अधिकार से बेदखल होगा।
अंजनी और पांडव शर्मा ने ब्राह्मणवादी-कॉरपोरेट हमले के खिलाफ किसान आंदोलन के साथ एकजुटता में ‘शहीद जगदेव-कर्पूरी संदेश अभियान’ चलाने की चर्चा की। यह अभियान तीनों कृषि कानून, चारों श्रम संहिता, नई शिक्षा नीति-2020, निजीकरण व बेरोजगारी के खिलाफ 2021 में जाति जनगणना कराने सहित सामाजिक न्याय, बराबरी व विकास के अन्य मुद्दों पर पर चलेगा।
मौजूद कार्यकर्ताओं ने कल जगदेव प्रसाद के जन्म दिवस से अभियान छेड़ने पर सहमति जताई। कल से यह अभियान जगदेव प्रसाद को याद करने के साथ शुरु हो जाएगा।
कार्यक्रम के अंत में विनय संगीत ने क्रांतिकारी गीत गाया, तब कार्यक्रम की समाप्ति की घोषणा हुई।
कार्यक्रम में बहुजन स्टूडेंट्स यूनियन के मिथिलेश विश्वास, अभिषेक आनंद, राजेश रौशन, सौरव राणा, अभिनंदन, पांडव शर्मा, निर्भय कुमार, गौरव पासवान, ऋतु राज, सीटू, अनीश, शिवम, राजीव कुमार, राहुल, मनीष, दिनेश के साथ वरिष्ठ सामाजिक कार्यकर्ता महेश अंबेडकर, विष्णुदेव दास, श्रवण कुमार, उमेश यादव, नीरज कुमार सहित कई लोग उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here