बढ़ता ही जा रहा है गेस्ट टीचरों का असंतोष, जुटान को रोका गया

153
1111

Guest Teacher Association
आज यानी 14 दिसम्बर को GTA (GUEST TEACHER ASSOCIATION) की ओर से स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग, और नॉन कॉलीजिएट विमुन एजुकेशन बोर्ड द्वारा वेतनमान को लेकर प्रोटेस्ट का काॅल दिया गया था जिसकी सूचना हम लोगों के द्वारा दो दिन पहले ही मौरिस नगर थाना में दे दी गई थी। लेकिन आज सुबह से ही हमें पुलिस प्रशासन ने फोन करके धारा 144 और कोरोना आपदा का हवाला देते हुए प्रदर्शन को स्थगित करने को कहा। इसके बावजूद हम प्रदर्शन स्थल पर गये ताकि प्रोटेस्ट के जरिए हम अपनी मांगों को NCWEB और SOL अथॉरिटी तक पहुंचा सके। मगर वैसा ही हुआ जिसकी हमें आशंका थी और हमें प्रोटेस्ट करने से रोक दिया गया। हम अतिथि शिक्षक संख्या में काफी कम थे जिसके लिए भारी पुलिस बल तैनात था। पुलिस प्रशासन द्वारा हमें कहा गया कि आप यहां धारा 144 लागू होने के कारण कोई भी प्रर्दशन नहीं कर सकते। आप लोगों की जो भी मांगे हैं वह सीधे NCWEB और SOL अथॉरिटी से मिलकर कहिए…। हम इतना कर सकते हैं कि आपको अथॉरिटी से मिलवा सकते हैं। हमारे प्रोटेस्ट का मकसद भी यही था कि कम से कम हमारा संदेश अथॉरिटी तक पहुंचे ताकि उनके द्वारा इस विषय पर कोई ऐक्शन लिया जाए और वे लोग भी पहले से ही सतर्क थे।
हम लोगों को पुलिस अपनी गाड़ी में बैठाकर पहले SOL लेकर गई जहां हमारी मुलाकात डाॅ. यू. एस. पाण्डेय जी से हुई। उनका कहना था कि लगभग 2000 में से 1760 अतिथि शिक्षकों का वेतनमान जारी कर दिया गया है। अन्य शिक्षकों का वेतनमान क्यों नहीं दिया गया इसमें संदर्भ में वे कालेज को जिम्मेदार ठहराते हैं। उन्होंने ऐसे शिक्षकों की सूची हमसे मांगी जिन्हें अभी तक वेतन नहीं मिला है। हमें जिनके नाम पता थे उनके नाम जाहिर कर दिए। सर की ओर से ये भी कहा गया कि SOL ने जनवरी-मई 2020 का भी वेतन दिया गया है लेकिन शिक्षकों का सहयोग न मिलने के कारण हम अपनी ओर से सटीक आंकड़ा नहीं दे पाए। इसके लिए हमने दूसरा तरीका यह निकाला है कि हम RTI डालेंगे ताकि हमें किसे और कब तक का कितना वेतन मिला है इसकी जानकारी इकट्ठा कर सके जिसमें थोड़ा वक्त भी लग सकता है। हमने सर के सामने अपनी सभी मांगे रख दी है। यह पहला अवसर था जब कोई संगठन अतिथि शिक्षक के लिए सीधे डायरेक्टर सर से मिला हो। इसके साथ ही हमने लिखित मांगों का एक पत्र भी सर को सौंपा।
जहां तक NCWEB के शिक्षकों का सवाल है हम NCWEB की अथॉरिटी से भी मिलने के लिए गए। हमें बताया गया कि आज डायरेक्टर मैंम नहीं है इसलिए आप डिप्टी डायरेक्टर या सेक्सन आफिसर से मिल लीजिए। लेकिन सर लोग भी वहां नहीं थे। कुछ देर बाद डायरेक्टर मैंम आईं। हमने उनसे मिलने की दरख्वास्त भेजी लेकिन उन्होंने मिलने से साफ इंकार कर दिया। उन्होंने अपने पीए के द्वारा कहला भेजा कि आपकी जो भी मांगे हैं वह हमें लिख कर दे दीजिए। हमने हमारे संगठन GTA की ओर से जो भी मांगे थी वो लिखकर दे दी हैं।
अतिथि शिक्षक संघ ने अपनी वेतनमान से सम्बंधित मांगों के पत्र जिसमें sol और ncweb के शिक्षकों को सत्रांत या शिक्षण के माह के अंत में वेतनमान दिया जाए जैसी मांग भी शामिल थी, कुलपति ऑफिस में भी दिया। साथ ही तदर्थ शिक्षकों द्वारा चलाए जाने वाले समायोजन, को न मानने व सभी को समान अवसर देते हुए, शिक्षक संघ ने यह मांग पत्र में रखी कि विश्वविद्यालय स्थाई नियुक्ति के लिए लिखित परीक्षा व न्यूनतम अंक पर साक्षात्कार की प्रकिया को लागू करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here