मजदूर विरोधी श्रम संहिता व किसान विरोधी कृषि बिल द्वारा मेहनतकश अवाम पर हमला व हमारे कार्यभार विषय पर विचार गोष्ठी का आयोजन

59
255
देवरिया : 28नवंबर फ्रेडरिक एंगेल्स के द्वितीय जन्मशती के अवसर पर आनंद बौद्ध बिहार लगड़ी देवरिया में “मजदूर विरोधी श्रम संहिता व किसान विरोधी कृषि बिल द्वारा मेहनतकश अवाम पर हमला व हमारे कार्यभार” विषय पर एक विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया.आयोजन क्रांतिकारी लोक अधिकार संगठन देवरिया व मजदूर किसान एकता मंच द्वारा किया गया.
श्रम कानून को विघटित कर शासक वर्ग निष्प्रभावी बनाने की चाहत नई आर्थिक नीति के साथ ही परवान चढाता रहा है.आज पूंजी ,श्रम को पीछे धकेल कर मजदूर के खून पसीने को पूरी तरह निचोड़ लेना चाहती है.श्रम कानून को पूंजीपति के पक्ष में खुलेआम बदला जा रहा है.  कृषि को भी देशी विदेशी पूंजी का चारागाह बनाने के लिए सौंपा जा रहा है.  कृषि अध्यादेशों व श्रम संहिता नई आर्थिक नीति के हिस्से ही हैँ.
आम अवाम मेहनतकश की एकजुटता ही आज मेहनतकश अवाम के संघर्ष को ताकत दे सकती है कि शासक वर्ग पीछे हटने पर मजबूर हो. गोष्ठी में बाबूराम विश्वकर्मा, राजेश, कृष्ण गोविन्द, बृजेश, पंकज, उद्भव मिश्रा, राम किशोर, भानु प्रताप सिंह, सोनी आदि ने अपने विचार रखे. संचालन व्यास मुनि तिवारी ने किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here