बक्सर में किसानों पर हुए जुल्म को लोकतंत्र का हनन बताया

0
160

#लोकतंत्र में किसानों पर अत्याचार घोर निंदनीय बक्सर में किसानों पर हुए जुल्म अत्याचार लोकतंत्र का हनन;राजकुमार भारत*
पटना 17 दिसंबर 2022
संयुक्त किसान मोर्चा,बिहार के बैनर तले गर्दनीबाग पटना में किसानों एवं किसान प्रतिनिधियों ने एक दिवसीय धरना दिया।धरना सदस्य मण्डल श्रीमति शीलम झा भारती,सर्वश्री जवाहर निराला ,चंद्रशेखर प्रसाद, रामचंद्र आजाद, कल्लू सिंह ,अनिल सिंह ,मंजय कुमार, डॉ विनय सिंह अनिल पासवान,कालिका प्रसाद,राजकुमार भारत,ने अध्यक्षता किया। संयुक्त किसान मोर्चा बिहार के नेताओ सहित एकजुटता दिखाते हुये संयुक्त किसान मोर्चा(भारत) किसान जागृति अभियान के राष्ट्रीय मुख्य महासचिव,एवं सरवोदय किसान नेता राजकुमार भारत व महिला प्रकोष्ठ की राष्ट्रीय अध्यक्षा सरवोदय नेत्री शीलम झा भारती ने संयुक्त ब्यान मे कहा लोकतंत्र में किसानों पर अत्याचार बिहार सरकार के प्रशासन द्वारा किया गया है, लोकतंत्र का हनन है सभी वक्ताओं ने अत्याचार की घोर निंदा की बक्सर में दोषी सरकारी मुलाजिमों पर उचित कार्रवाई नहीं की गई तो देशभर में बहुत बड़ा विद्रोह होगा इसकी जिम्मेवारी सरकार की होगी ।
संयुक्त किसान मोर्चा बिहार की मुख्य मांग बक्सर जिला के चौसा के किसानों पर दिनांक 1 दिसंबर 2022 की पिटाई के खिलाफ दोषी प्रशासन पर अपराधिक मुकदमा किया जाए मुकदमा थाना जिला बक्सर थाना बक्सर बिहार के फर्जी मुकदमा वापस ले तथा पूर्व में जमीन में की गई घोटालों की जांच करवा कर,दोषीयो के खिलाफ कार्रवाई की जाए।राजकुमार भारत ने कहा,किसानों ने अपनी जमीन देश के विकास के लिये अपने पुरूखो की जमीन संभाल कर रखी हैं,ना,कि निजी कंपनी तथा मल्टीनेशनल कारपोरेट व्यापारिक घरानो को देने के तुगलकी फ़रमान से सरकारी संपत्ति अधिग्रहण करना बंद करें, मोदी प्रधानमन्त्री भारत सरकार व प्रदेश की मुख्यमन्त्री बिहार व अन्य राज्य सरकारे, योगी सरकार आजमगढ मे हवाई अड्डा के विस्तार के लिये ज़बरन अधिग्रहण कर किसान मज़दूरों गरीबो को बैघर बैदखल कर उजाड़ना बंद करे।डीएपी की खुली लूट और किल्लत, धान आदि फसल की लूट और बढ़ती मंहगाई ,निजीकरण करना बंद करे,व आम जनता की जनसमस्याओं को किसान मजदूर स्थानीय नेताओ ओर ग्राम सभाओ के प्रतिनिधियो से वार्ता कर हल करे।सुलझाये ओर अमन चैन से जीने दे,जनहित व राष्ट्रहित मे कार्य करे।
जैसे:- MSP गारंटी लागू करने,
दिल्ली के सीमाओं पर किसान आंदोलन के दौरान हुए शहीद किसान को मुआवजा,
अग्निपथ योजना वापसी,
बिहार में व्यापार समिति( मंडी) चालू करने ,
अन्य राज्यों की तरह खेतों को निशुल्क बिजली पानी उपलब्ध कराने,
गन्ना उत्पादक को बकाया राशि उपलब्ध कराने ,
मनरेगा को कृषि कार्य से जोड़ने ,
बन्द पड़े राजगीर कृषि महाविद्यालय को खोलने,
दक्षिण बिहार को सूखा क्षेत्र घोषित करने,
.गंगा कोसी में भूमि कटाव कोसी का स्थाई निदान अन्य स्थानीय मुद्दे ।
मुख्य रूप विचार रखने वाले , सर्व श्री जवाहर निराला, संयोजक किसान संघर्ष समिति, बिहार श्री बाल गोविंद प्रसाद महासचिव ऑल इंडिया वर्किंग काउंसिल ,चंद्रशेखर प्रसाद, अध्यक्ष गांव बचाओ देश बचाओ संघर्ष समिति , रामचंद्र आजाद, अध्यक्ष प्रगतिशील किसान संघ,कल्लू सिंह, नौजवान किसान मोर्चा,बी बी सिंह, डॉ विनय सिंह, अनिल कुमार सिंह जफर बाड़ी अंसारी, बाल कुमार यादव चंद्रशेखर यादव, महेश यादव,उमेश शर्मा, मंजय कुमार त्रिवेणी यादव अनिल पासवान किसान नेता तपेश्वर सिंह उर्फ गांधीजी श्री सूर्या राजवंशी सुरेश प्रसाद रामजतन यादव, मदन जी किसान नेत्री श्रीमती शीलम झा भारती,कंचन देवी अन्य हज़ारो किसान एवं प्रतिनिधि शामिल रहे।
जारीकर्ता
राजकुमार भारत* शीलम झा भारती*
संयुक्त किसान मोर्चा (भारत) किसान जागृति अभियान…..
09255246238, 08802783955
Email raajkumarbharatnfccc@gmail.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here