शिक्षा जगत

अतार्किक शेड्यूल के साथ जूझते Ncweb के छात्र

अगर किसी चीज की आत्मा को ही उससे निकाल दिया जाय, या उसे मार दिया जाय तो सोचिए कि क्या होगा। इसका उत्तर आप...

दलित गुमराह तो नहीं हैं

डा.आम्बेडकर ने एक हद तक मार्क्सवाद को अभिशापित किया। कांशीराम ने तो बहुत ही सजगता के साथ कम्युनिस्टों को हरी घास का हरा सांप...

कोरवा भाषा के विकास को समर्पित एक पारा शिक्षक हीरामन कोरवा

विशद कुमार   झारखंड की राजधानी रांची से 207 किमी दूर है गढ़वा जिला मुख्यालय, जहां से करीब 22 किमी दूर है रंका प्रखंड...

यूपी बी.एड. निर्धारित समय -सीमा बढ़ाने के खिलाफ छात्रों का कुलपति को खुला खत

जौनपुर : जिन छात्र-छात्राओं ने B.Ed सत्र 2019-21 हेतु प्रवेश लिया है जो कि 2 साल का कोर्स है और इसे जून 2021 में...

Latest news

हमेशा आम जनता ही भुगतती है युद्ध का खामियाजा

युद्ध का खामियाजा हमेशा आम आदमी ही भुगतता है इंदौर। इतिहास गवाह है कि युद्ध, अंतर्राष्ट्रीय राजनीति, देशों के आर्थिक...

बड़े जोतदार जनता के मित्र नहीं हैं तो भूमि-प्रश्न अनसुलझा कैसे रह सकता है?

संपादकीय टिप्पणीः घुटे हुए और घाघ कॉमरेड्स मुझे करेक्ट करेंगे इस उम्मीद के साथ सकारात्मक ढंग से अपनी बातों को...

श्रमिकों बाजार का माल तुम्हारा है, दैत्याकार कारखाने तुम्हारे हैं

#काले धन की नयी खेप! धन कभी सफेद नहीं होता है धन श्रम शक्ति के लाल रक्त और रंगहीन पसीने से पैदा...

Must read

हमेशा आम जनता ही भुगतती है युद्ध का खामियाजा

युद्ध का खामियाजा हमेशा आम आदमी ही भुगतता है इंदौर।...

बड़े जोतदार जनता के मित्र नहीं हैं तो भूमि-प्रश्न अनसुलझा कैसे रह सकता है?

संपादकीय टिप्पणीः घुटे हुए और घाघ कॉमरेड्स मुझे करेक्ट करेंगे...