‘बहुजन’ छात्रों के मुद्दे और आंदोलन की दिशा पर चर्चा

0
116
भागलपुर (बिहार): बहुजन स्टूडेंट्स यूनियन (बिहार) के बैनर तले शहीद भगत सिंह के जन्मदिवस के मौके पर उनके विचार-सपने व संघर्ष की विरासत के साथ “बहुजन छात्रों के मुद्दे और आंदोलन की दिशा” पर अंबेडकर विचार व समाजकार्य विभाग (तिलकामांझी भागलपुर विश्वविद्यालय) में चर्चा हुई.
इस मौके पर बहुजन स्टूडेंट्स यूनियन(बिहार) के संरक्षक डॉ.विलक्षण रविदास ने कहा कि आज हमारा मुल्क आजादी के बाद सबसे मुश्किल दौर से गुजर रहा है.संविधान व लोकतंत्र को खत्म किया जा रहा है,आजादी को गिरवी रखा जा रहा है.भगत सिंह के क्रांतिकारी स्पिरिट और समझौताहीन संघर्ष की विरासत को बुलंद करने की जरूरत है.
सामाजिक न्याय आंदोलन (बिहार) के रिंकु यादव और गौतम कुमार प्रीतम ने कहा कि शहीद भगत सिंह-डॉ.अंबेडकर जैसे नायकों के सपनों के भारत बनाने की दिशा के विपरीत मुल्क को पीछे की तरफ धकेला जा रहा है.ब्राह्मणवादी-पूंजीवादी गुलामी और तानाशाही का शिकंजा कसता जा रहा है.
बहुजन स्टूडेंट्स यूनियन (बिहार) के अध्यक्ष सोनम राव ने कहा कि छात्र-युवाओं को सम्मानजनक जीवन,शिक्षा-रोजगार व लोकतांत्रिक अधिकार से बेदखल करने की सरकारी मुहिम आगे बढ़ रही है.संपूर्ण सरकारी शिक्षा व्यवस्था को बर्बाद किया जा रहा है.बेरोजगारी बढ़ती ही जा रही है.शहीद भगत सिंह से ताकत लेकर छात्र-युवा प्रतिरोध तेज करना होगा.
बहुजन स्टूडेंट्स यूनियन (बिहार) के अनुपम आशीष ने कहा विश्वविद्यालय परिसरों में जातीय-लैंगिक उत्पीड़न और प्रशासनिक तानाशाही बढ़ता जा रहा है.खासतौर पर बहुजन छात्र-युवाओं के सामने गंभीर चुनौती है.बेशक,इस चुनौती का मुकाबला करने की वैचारिक दृष्टि निर्मित करने और दिशा तय करने में भगत सिंह बड़े मददगार हैं,वे हमें आगे का रास्ता दिखाते हैं.
बहुजन स्टूडेंट्स यूनियन (बिहार) के अभिषेक आनंद और बिहार फुले अंबेडकर युवा मंच के अजय राम ने कहा आज जब छात्र-युवाओं के लिए जब सम्मानजनक जीवन का रास्ता बंद हो रहा है,तब एक रास्ता खुला है,लड़ने का,प्रतिरोध करने का!मुल्क के छात्र-नौजवान इस रास्ते बढ़ भी रहे हैं.भगत सिंह छात्र-युवाओं के प्रतिरोध की प्रेरणा के स्त्रोत बने हुए हैं.भगत सिंह के विचारों-सपनों को जानना-समझना,उनके क्रांतिकारी स्पिरिट व संघर्ष की विरासत को बुलंद करना छात्र-युवा आंदोलन की जरूरत है.
इस चर्चा में डॉ. योगेंद्र और संजय यादव  ने कहा कि सत्ता की गडबड़ियों के खिलाफ तनकर खड़ा होकर ही भगत सिंह की विरासत बुलंद हो सकती है.वर्तमान केन्द्र सरकार के खिलाफ आर-पार की लड़ाई लड़नी होगी.
मौके पर प्रमुख तौर पर मौजूद थे-बहुजन स्टूडेंट्स यूनियन (बिहार) के पवन शास्त्री,नंदकिशोर भारती,सतीश कुमार,प्रवीण कुमार यादव,अनीश कुमार आनंद,अभिषेक कुमार,बबलू कुमार,रेखा कुमारी,मिथिलेश विश्वास,वरुण कुमार दास,उदय कुमार,हीरा लाल,फंटूश कुमार,जगबीर कुमार,सुमन यादव,आशीष कुमार और विभाग के डॉ संजय रजक,डॉ कमल किशोर,डॉ ज्योति कुमार और डॉ उर्मिला कुमारी सहित कई लोग मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here