Most recent articles by:

admin

बड़ी पूँजी के हितैषी थे गाँधी-अंबेडकर जबकि भगत सिंह थे मेहनतकशों के हमदर्द

मुक्तिबोध की कविता की पंक्ति है "पूंजी से जुड़ा हृदय बदल नहीं सकता"। गांधी जयंती के अवसर पर यह प्रश्न किया जाना चाहिए कि...

सत्य केवल वर्ग संघर्ष का नियम है, शोषकों से संघर्ष ही सत्य का मार्ग है

Vidyanand Choudhary अगर लोग बेघर हैं तो मैं गृह त्यागकर महान नहीं बनूँगा उनके आवास के लिए संघर्ष करूँगा। अगर लोग भूखे हैं तो मैं अन्न त्यागकर महान नहीं...

Must read