भाजपा सरकार के खिलाफ अपने अभियान को और गहरा व व्यापक बनाने की जरूरतः माले

0
1411

पार्टी की राज्य स्थायी समिति की बैठक 19 अगस्त 2020 को लखनऊ में हुई। बातचीत व निर्णयों का सार संक्षेप निम्नलिखित है :

1. पिछली डिजिटल बैठक (07 अगस्त 2020) के बाद आये केंद्रीय आह्वानों (9, 13, 14, 15 व 18 अगस्त) को अधिकांश जिलों में लागू किया गया है। तबसे कुछ जिलों में वहां की घटनाओं पर खास पहल भी ली गई। जैसे कि मिर्जापुर में गरीबों को उजाड़ने और सामंती हमलावरों की गिरफ्तारी के लिए सैकड़ों लोगों का मार्च व मड़िहान तहसील मुख्यालय पर प्रदर्शन। लखीमपुर खीरी-पीलीभीत में दशकों से बसे परिवारों को जमीन का मालिकाना हक दिलाने के लिए क्रमिक धरना। आजमगढ़ में सवर्ण दबंगों द्वारा दलित प्रधान की हत्या व पुलिस की गाड़ी से एक बच्चे की कुचल जाने से मौत की घटना पर प्रदर्शन आदि। इधर योगी राज में दलितों, महिलाओं-बच्चियों और गांव के गरीबों पर हिंसा-अत्याचार की घटनाओं में उछाल आयी है। इस पर पहल और भाजपा सरकार के खिलाफ अपने अभियान को और गहरा व व्यापक बनाने की जरूरत है।

2. प्रदेश में संगठन निर्माण के प्रति पार्टी कामरेडों में उदारवादी दृष्टिकोण मौजूद है। इसके चलते पार्टी ढांचों की नियमितता व सक्रियता, सभी सदस्यों तक पहुंच, उनसे जीवंत संपर्क व उनकी सक्रियता को उन्नत करने, नए सदस्य बनाने, जनसंगठनों का निर्माण करने, उन्हें आत्मनिर्भर बनाने, उनके बीच से पार्टी तत्व व नेतृत्व विकसित करने जैसे दूरगामी लेकिन कम्युनिस्ट संगठन के लिए जरूरी काम किसी न किसी रूप में प्रभावित हुए हैं। इसके लिए हम सिर्फ कोरोना महामारी को जिम्मेदार नहीं ठहरा सकते। पिछले एक-डेढ़ साल में देखा जाये, तो गिनती के नए पार्टी सदस्यों की भर्ती हुई है। नेतृत्वकारी साथियों को इस पर विचार करने और ध्यान देने की जरूरत है। तात्कालिक राजनीतिक पहलकदमी बहुत जरूरी है, लेकिन पार्टी निर्माण को कदापि नजरों से ओझल नहीं होने देना है।

3. कोरोना काल में हर सदस्य तक पहुंच के लिए पार्टी का डिजिटल ढांचा व्हाट्सएप ग्रुप के जरिए बनाने की जरूरत है। डिजिटल ढांचा फिजिकल ढांचे का विकल्प नहीं है, पर महामारी से जनस्वास्थ्य की रक्षा करते हुए आम सदस्यों तक पार्टी की पहुंच को सुगम बनाने और दोतरफा संवाद कायम रखने के लिहाज से यह बेहद जरुरी है। जिला और ब्लाक के अगुवा साथी ऐसे ग्रुप जल्द-से-जल्द बना लें।

योगी सरकार में दमन-उत्पीड़न की बढ़ती घटनाओं के मद्देनजर जमीन पर विरोध के अलावा सोशल मीडिया प्लेटफार्म का भी उपयोग किया जाना चाहिए। इसके लिए निर्माणाधीन राज्य सोशल मीडिया ग्रुप 3-9 सितंबर के बीच तैयारी कर कार्यक्रम लेगा।

4. सदस्यता-नवीनीकरण चार्ट और लेवी हरेक जिला इकाई के सचिव/प्रभारी 27 अगस्त 2020 तक राज्य कार्यालय में पहुंचा देने की हर हाल में गारंटी करें, ताकि सीसी द्वारा निर्धारित समय के भीतर त्रुटिरहित रूप में इसे केंद्र के पास जमा किया जा सके।

नौगढ़ ब्लाक को चंदौली जिला कमेटी पूरी तरह से देखेगी और उसके लिए योजनाएं बनाएगी। का. शशिकांत कुशवाहा अपनी अन्य जिम्मेदारियों के साथ नौगढ़ ब्लाक को भी कोऑर्डिनेट करेंगे।

5. खेग्रामस ने आगामी 31 अगस्त को मनरेगा, लॉकडाउन भत्ता, गरीबों को मुफ्त राशन, कर्जमाफी व साम्प्रदायिक सौहार्द आदि मुद्दों पर ब्लाक व जिला मुख्यालयों पर देशव्यापी आंदोलन का आह्वान किया है। वाम दलों ने मोदी शासित भारत के अमेरिका के पिछलग्गू बनते जाने के खिलाफ एक सितंबर को देश भर में प्रतिवाद का आह्वान किया है। वहीं आरवाईए ने रोजगार, स्वास्थ्य व शिक्षा से जुड़ी मांगों के लिए 27 सितंबर से 9 अक्टूबर तक इलाहाबाद से लखनऊ तक पदयात्रा निकालने का कार्यक्रम बनाया है।

6. आगामी बैठकें : 01 सितंबर 2020 को शाम 06.00 बजे से 08.00 बजे तक पार्टी जिला सचिवों, डीएलटी प्रभारियों व राज्य स्थायी समिति के सदस्यों की संयुक्त डिजिटल बैठक जूम एप पर होगी। इसमें अन्य बातों के अलावा, नवीनीकरण, चार्ट व लेवी की रिपोर्ट खास तौर से सुनी जाएगी और आगे के कार्यक्रम तय किये जायेंगे। 10 सितंबर को पार्टी राज्य कमेटी की डिजिटल बैठक इसी एप पर होगी, जिसका एजेंडा व समय बाद में भेजा जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here