मनरेगा कर्मियों ने मुख्यमंत्री से पत्र के माध्यम से लगाई गुहार  

0
955
रांची : झारखंड राज्य मनरेगा कर्मचारी संघ के प्रदेश अध्यक्ष जॉन पीटर बागे राज्य मनरेगा  ने एक प्रेस बयान जारी कर बताया है कि संघ के नवनिर्वाचित प्रदेश अध्यक्ष जॉन पीटर बागे के नेतृत्व में माननीय मुख्यमंत्री और मनरेगा आयुक्त को एक ज्ञापन सौंपा गया, तथा पत्र के माध्यम से मनरेगा कर्मियों की समस्याओं से अवगत कराया गया। इससे पूर्व मनरेगा कर्मचारी संघ की बैठक दिनांक 31/01/2021 को हुई थी, जिसमें प्रदेश कमिटी का पुनर्गठन किया गया, जिसमें सर्वसम्मति से जॉन पीटर बागे को प्रदेश अध्यक्ष के रूप में चयन किया गया।। साथ ही महामंत्री विकास पांडेय, सचिव जितेन्द्र कुमार, कोषाध्यक्ष संजय प्रामाणिक, उपाध्यक्ष लतीफ अंसारी, शिवदेव लोहरा, संगठन मंत्री जयदेव मुर्मू, और मंजीत सिंह को बनाया गया। बागे ने बताया कि झारखंड राज्य मनरेगा कर्मचारी संघ के पुनर्गठन के बाद कोई भी व्यक्ति जो संघ का पदाधिकारी नहीं हैं, वह अगर संघ की ओर से पत्राचार करता है तो वह अमान्य और गैर कानूनी होगा।
आज माननीय मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में होने वाली झारखंड राज्य ग्रामीण रोजगार गारंटी परिसदन की बैठक आहूत है। जिसमें मनरेगा कर्मियों की समस्याओं को शामिल नहीं किया गया है। परिसद की बैठक में मनरेगा कर्मियों की नियमितीकरण, मानदेय बढ़ाने, और अन्य सभी समस्याओं का निर्णय लिया जा सकता हैं। राज्य के सभी मनरेगा कर्मियों की उम्मीद इस बैठक से हैं। अतः मनरेगा कर्मियों ने माननीय मुख्यमंत्री से पत्र के माध्यम से गुहार लगाई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here