नागेपुर के आक्रोशित किसानों ने किसान विरोधी सरकार का पुतला फूंका

0
314

मिर्जामुराद :- दिल्ली बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में शुक्रवार को आदर्श ग्राम नागेपुर के किसान व ग्रामवासी लामबंद दिखे। लोक समिति के कार्यकर्ता और ग्रामवासियों ने किसानों की मांगों को लेकर पुतले के साथ गाँव में रैली निकाली नंदघर के  सामने धरना-प्रदर्शन किया। आक्रोशित किसानों ने  किसान विरोधी सरकार का पुतला और नये कृषि कानून की प्रतियां जलाकर विरोध जताया। उन्होंने कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग की। साथ ही चेतावनी दी कि यदि कृषि कानून निरस्त नहीं किया गया तो उनका आंदोलन इसी तरह जारी रहेगा। इस मौके पर किसानों ने कहा कि अगर सरकार ने किसानों की मांगों पर सकारात्मक रुख नहीं अपनाया, तो वे पुरी ताकत से किसानों की लड़ाई लड़ने के लिए सड़कों पर उतरने को मजबूर होगा। उन्होंने सरकार से गणतन्त्र दिवस पर लालकिला पर हुए उपद्रव की सी बी आई जाँच कर उपद्रवियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही के साथ ही नये कृषि बिल तो तत्काल वापस लेने और किसान नेताओं पर से फर्जी मुकदमे को तत्काल वापस लेने की माँग किया।

  •  किसानों ने  बिल की प्रतियां जलाकर नये कृषि कानून को वापस करने की माँग किया
  •  ग्रामवासियों ने आंदोलनकारी किसानों पर से फर्जी मुकदमे वापस लेने की माँग किया।

धरना प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे लोक समिति के संयोजक नन्दलाल मास्टर ने कहा है कि हम केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीनों किसान विरोधी कानूनों का विरोध करते हैं। केंद्र सरकार द्वारा दिल्ली जा रहे किसान नेताओं पर फर्जी कार्रवाई निंदनीय है। गणतंत्र दिवस पर लाल किले पर पहुँचकर साजिश के तहत कुछ उपद्रवियों ने किसान आंदोलन को बदनाम कर रही है। सरकार मामले की बिना जाँच किये उल्टे शांतिपूर्ण आंदोलन कर रहे किसान नेताओं पर ही फर्जी मुकदमे लगाकर किसान आंदोलन को कुचलने की कोशिश कर रही है। जबकि कड़ाके की ठंड में पिछले दो माह से ज्यादा समय से लाखों किसान शांतिपूर्ण तरीके से सड़कों पर आंदोलन कर रहे हैं, लेकिन केंद्र सरकार के कान पर जूं तक नही रेंग रही है। किसानों की आमदनी दोगुनी करने का वादा करने वाली सरकार किसानों से उनकी जमीन छीनने का षड्यंत्र रच रही है।

कार्यक्रम में मुख्यरूप से नंदलाल मास्टर,श्यामसुन्दर,अमित,पंचमुखी,महेंद्र राठौर, डब्लू राठौर, सोनी, सरिता, अनीता, सरोज, मैनब, राजकुमारी, चन्द्रकला,सीमा,प्रेमा शिवकुमार,आशा, कल्लू, राजनाथ,नंदू,तपेदार, सुबाष, छेदी,  मधुबाला, विद्या, शमाबानो, सीमा,सुनील, मनजीता,कल्लू,चेतन राम,विनोद,सुरेश, राम सहारे, सोनू,ब्रीज कुमार,अरविन्द, सावित्री,राखी,संजू,खुशबू, आदि लोग शामिल रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here